Advertisements

अगर बच्चा गाय का दूध पीने से इनकार करे तो अपनाये ये टिप्स

Advertisements

जैसे की हम सबको पता ही है की गाय का दूध सर्वोत्तम है और बच्चे के लिए तो गाय का दूध बहुत ही गुणकारी होता है। अगर आप भी अपने बच्चे को गाय का दूध पिलाना चाहते हो तो सबसे पहले आपको यह बात जानना बहुत जरूरी है कि किस उम्र से पिलाये बच्चे को गाय का दूध अगर आप अपने बच्चे को गाय का दूध पिलाना चाहते हो और आपका बच्चा गाय का दूध पीने से इनकार कर रहा है तो आपको इस लेख में कुछ टिप्स मिल जाएंगी जिनसे आप अपने बच्चे को आसानी से गाय का दूध पिला सकते हो। अगर आपका बच्चा 1 साल से अधिक उम्र का है तो आप उसे स्तनपान और फार्मूला मिल्क के साथ साथ गाय का दूध भी पीला सकते हो।


बच्चो के लिए गाय का दूध


Advertisements

अगर बच्चा गाय का दूध पीने से इनकार करे तो क्या करे

कई बार बच्चे दूध पीने से इनकार कर देते है। अगर आपका बच्चा बार बार गाय का दूध पीने से इनकार करे तो आपको उनकी मना करने की बातो को ध्यान से समजना होगा की आखिर बच्चा गाय का दूध पीने से इनकार क्यों कर रहा है। 

अगर आपके बच्चे को पेट में दर्द , कब्ज, पेट में सूजन, बच्चे को बार बार पॉटी आना जैसी समस्या दिख रही है तो बच्चे को गाय का दूध देने से बचे।

अगर आपका बच्चा गाय के दूध को सही से पचा नहीं पा रहा है तो आप लेक्टोज़ इन्टॉलरेन्स की जाँच करे। 

अगर आपके बच्चे को गाय के दूध का स्वाद पसंद नहीं आ रहा है तो कृपया निचे दिए गए टिप्स को आजमा सकते हो। 

 1. अगर आप बच्चे को ठंडा दूध दे रहे हो तो हल्का गर्म करके पिलाये हो सकता है गर्म दूध का स्वाद बच्चे  पसंद आये। 

2. अगर आपके बच्चे को डॉयफ्रुइट्स (dry fruits) पसंद है तो आप दूध में डॉयफ्रुइट पाउडर मिलाकर भी बच्चे को दे सकते हो। 

3. बच्चे को colorful cup और bowl में दूध दे जिस से बच्चे को दूध पीने में interest रहे।

4. जब भी बच्चा पूरा दूध पी जाए तो उन्हें शाबाशी जरूर दे। 

5. बच्चे को दूध पीने के लिए प्रोत्साहित करे इसके लिए आप बच्चे को इनाम भी दे सकते हो। 

6. आप बच्चे को गाय के दूध के फायदे के बारे में समजाये जिस से बच्चे को और भी दूध पीने की रूचि जगे।

7. आप बच्चे के दूध में खजूर मिलाकर उसे प्राकृतिक रूप से मीठा बनाकर बच्चे को पीला सकते है जिस से बच्चे को दोगुना फायदा मिलेगा।

तो अगर आपका बच्चा भी गाय का दूध पीने से इनकार कर रहा है तो इन तरीको को अवश्य अपनाये और अपने बच्चे को हेल्दी बनाये।

Happy Parenting.

यह भी पढ़े :




 
Advertisements

Leave a Comment